Cart () - ₹0
  1. Home
  2. / blog
  3. / operating-system-ke-prakar

ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार | operating system ke prakar

नमस्कार दोस्तों आज के लेख में हम आपको बताने वाले हैं। ऑपरेटिंग सिस्टम कितने प्रकार के होते हैं इनकी विस्तार से जानकारी बताने वाले हैं तो चलिए जानते हैं ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में-

एक ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) छोटे-बड़े सॉफ्टवेयर का समूह है जो कंप्यूटर के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर संसाधनों का प्रबंधन और नियंत्रण करता है। यह उपयोगकर्ता और कंप्यूटर के हार्डवेयर के बीच एक इंटरफ़ेस के रूप में कार्य करता है, जिससे आप कंप्यूटर के साथ प्रतिक्रिया कर सके।

ऑपरेटिंग सिस्टम कई कार्य जैसे OS फ़ाइल प्रबंधन, स्मृति प्रबंधन, प्रक्रिया प्रबंधन और सुरक्षा जैसे कार्यों के लिए ज़िम्मेदार है। ऑपरेटिंग सिस्टम के कुछ लोकप्रिय उदाहरणों में Microsoft Windows, macOS, Linux और Android शामिल हैं। जो आज के समय में बहुत ही प्रसिद्ध है।

ऑपरेटिंग सिस्टम मुख्यत सात प्रकार के होते हैं-

  1. सिंगल यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम
  2. मल्टीटास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम
  3. मल्टी यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम
  4. बैच ऑपरेटिंग सिस्टम
  5. रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम
  6. टाइम शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम
  7. नेटवर्क ऑपरेटिंग सिस्टम
ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार | operating system types
ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार | operating system types

सिंगल यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम

सिंगल यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम में केवल एक समय में एक ही यूजर कार्य कर सकता है, इस प्रकार के ऑपरेटिंग सिस्टम को सिंगल यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम कहते हैं।

मल्टीटास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम

मल्टीटास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे कि नाम से ही पता चलता है कि मल्टीटास्किंग का मतलब एक से अधिक टास्क पूरा करने वाला सिस्टम। जिस में एक ही समय में एक से अधिक कार्य हो सके इस मल्टीटास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम कह सकते हैं।

मल्टी यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम

मल्टी यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम, जिसमें मल्टी यूजर का मतलब एक से अधिक यूजर एक साथ कार्य कर सके। एक समय में एक से अधिक यूजर कार्य कर सकते हैं इसमें यूजर टर्मिनल के मध्यम से जुड़े होते हैं।

बैच ऑपरेटिंग सिस्टम

जिस प्रकार से कक्षा में बच्चों को अलग-अलग बैच में डिवाइड किया जाता है उसी प्रकार इसमें भी कार्य को अलग अलग बैच में डिवाइड करता है इसमें टाइम मैनेजमेंट की जरूरत नहीं पड़ती।

रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम

रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम एक ऑपरेटिंग सिस्टम है। इसके अंदर अलग-अलग टास्क और वर्क तथा अलग-अलग तरह को निष्पादित करते हैं तो उसके लिए एक ही निश्चित समय दिया जाता है, तो इस समय में वह टास्क को निष्पादित करने के लिए भेजा है इसे टाइम मैनेजमेंट की जरूरत होती है।

टाइम शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम

टाइम शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम में अलग करने के लिए अलग अलग समय दिया जाता है, ताकि दिए गए समय में यहां यूज-पास को प्रोसेस कर सके।

नेटवर्क ऑपरेटिंग सिस्टम

नेटवर्क ऑपरेटिंग सिस्टम एक प्रकार का ऑपरेटिंग सिस्टम है नेटवर्क ऑपरेटिंग सिस्टम को दो या दो से अधिक है नेटवर्क के माध्यम से जोड़े जाते हैं इसे नेटवर्क सिस्टम कहते हैं उदाहरण। जिस प्रकार एक ही प्रिंटर से दो या दो से अधिक कंप्यूटर को जोड़ा जाता है।