Diploma Notes

learn diploma and engineering study for free

  1. Home
  2. /
  3. About Polytechnic
  4. /
  5. पाॅलिटेक्निक क्या है, पाॅलिटेक्निक के बारे में? What is polytechnice, about polytechnice in hindi

पाॅलिटेक्निक क्या है, पाॅलिटेक्निक के बारे में? What is polytechnice, about polytechnice in hindi

नमस्कार दोस्तों इस लेख में हम जानेंगे कि पाॅलिटेक्निक (Polytechnice) क्या है? यह कितने साल का होता है? इससे हमें कैसी नोकरी मिलती है? कोन सा कोलेज बेस्ट है? प्राइवेट सेक्टर में कितनी जोब मिल सकती हैं आदि।

Polytechnice kya hota hai?

पॉलिटेक्निक ( Polytechnic ) एक टेक्निकल कोर्स है जो डिप्लोमा कोर्स होता है यह एक काफी बेहतरीन कोर्स है जिसे 10th या 12th पास करने के बाद में कर सकते हैं। पॉलिटेक्निक का मतलब ही होता है इंजीनियरिंग मे डिप्लोमा होता है। इस कोर्स के अंतर्गत कई विभाग (Branch) की पढ़ाई (Study) कराई जाती है। पोलिटेकनिक एक तीन वर्षीय Diploma होता है। जिसमें प्रोद्योगिकी शिक्षा का अध्ययन कराया जाता है।

इसके दो प्रकार के संस्थान होते हैं –

  1. सरकारी संस्थान (Government Institute)
  2. प्राइवेट संस्थान (Private Institute)

सरकारी संस्थान (Government Institute in Polytechnice) –

इन इन्सिट्यूड में एडमिशन लेने के लिए JEEP की परीक्षा पास करनी पड़ती है। तथा परीक्षा में अच्छी रैंक भी लानी होती है तभी संस्थान में प्रवेश मिलता है। कम रैंक वाले परीक्षार्थियों को Insititude में प्रवेश नहीं मिलता है। तथा इन संस्थानों में teacher’s staff प्रर्याप्त नहीं होता है पढ़ाई अच्छी नहीं होती है तथा सारी activity time से नहीं हो पाती हैं।

संस्थान का चयन (Selection of Insitude) –

JEEP की परीक्षा पास करने के बाद कोलैज का चयन करना होता है इसके लिए काउंसलिंग होती है। JEEP में प्राप्त रैंक के अनुसार संस्थान में परीक्षार्थियों का चयन होता है। अच्छी रैंक वाले परीक्षार्थियों को मन चाहा संस्थान में प्रवेश मिल जाता है तथा अन्य परीक्षार्थियों को संस्थान में सीट की संख्या के अनुसार प्रवेश मिलता है।

विभाग का चयन (Selection of trade) –

JEEP की परीक्षा पास करने के पश्चात अपनी ट्रैड (विषय) का चयन करना अनिवार्य होता है। क्योंकि अलग-अलग संस्थानों में अलग-अलग ट्रैड की संख्या सीमित होती है। जिस विषय में हमें रूचि है उस विषय का चयन करना चाहिए।

Polytechnic में निम्न ट्रेड होती हैं –

  1. Civil
  2. Electrical
  3. Electronic
  4. Mechanical
  5. Chemical
  6. Computer science
  7. Information technology
  8. Fasion Designing आदि विभिन्न ट्रैड्स होती है हमें किसी एक का चयन करना होता है।

शुल्क (Fees) –

सरकारी संस्थानों में सम्पूर्ण फीस (ट्यूशन फीस + परीक्षा शुल्क + अन्य) 15000 ₹ प्रति बर्ष होती है। प्राइवेट संस्थान की तुलना में सरकारी संस्थानों में प्रति वर्ष शुल्क बहुत कम होता है।

नौकरी (jobs) –

Diploma करने के पश्चात हमें अपने डिपार्टमेंट में आयी अधिशासी अभियंता (Junior engineer) की वेकेंसी (सरकार द्वारा) का इन्तजार करना है और परीक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात नोकरी मिलती है। जिसकी सेलेरी 50,000 – 60,000 ₹ प्रति माह होती है। अथवा प्राइवेट कंपनियों में साक्षात्कार द्वारा भी नौकरी मिलती हैं।

सबसे अच्छा संस्थान (Best Insititude in Polytechnice) –

उतराखण्ड में सबसे अच्छा संस्थान K.L. Polytechnic Ruriki (Haridwar) माना जाता है। यह संस्थान शहर में है जिस कारण यहां सभी सुविधाएं (जैसे किताबें, कोचिंग, अन्य सामाग्री) उपलब्ध होती है। इसके अतिरिक्त placement के अच्छे चांसेज होते हैं। इस संस्थान के अतिरिक्त अन्य संस्थान भी हैं जो बहुत अच्छे हैं वह निम्नलिखित हैं –

  1. Govt. Polytechnic Srinagar garhwal (Pauri)
  2. Govt. Polytechnic Kashipur (U.s.nagar) Govt. Polytechnic Pithuwala (Dehradun) Govt. Polytechnic Narendranagar (Tehri garhwal)

प्राइवेट संस्थान (Private Insitude in Polytechnice) –

यह ऐसे संस्थान होते हैं जहां प्रवेश लेने के लिए JEEP की परीक्षा नहीं देनी। यहां प्रवेश आसानी से मिल जाता है। किन्तु इन संस्थानों में फीस अधिक होती है। लेकिन यहां पढ़ने के लिए अच्छी Library होती है।तथा अच्छी लेब होती है। तथा यहां से अच्छा placement होता है।

पॉलिटेक्निक करने के फायदे क्या है?

Polytechnic एक सरल कोर्स होता है जिसे दोनों भाषाओं ( हिन्दी व English ) में पढ़ा जा सकता है। इससे नौकरी मिलने की संभावना ज्यादा होती है।

Polytechnic करने के गैर फायदे क्या है?

इस कोर्स से यह नुकसान है कि प्राइवेट में अच्छी सेलेरी नहीं मिल पाती है।

Read More: What to do after polytechnic diploma in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *